भगवान राम को एक भक्त कैसे निहारता है।

IMG 20220912 WA0021

भगवान राम को एक भक्त कैसे निहारता है। यह  मेरे जीवन का सत्य है
हनुमान जी के ह्दय में राम बैठे हैं

हदय में बैठे राम को निहारती
राम को शीश नवाती राम राम राम
फिर निहारती फिर देखती

निहारते हुए घंटों बीत जाते।

राम राम राम राम राम राम
हनुमान जी के ह्दय में राम बैठे हैं।

हदय में बैठे राम को निहारती
दिल कहता राम, तुम कब दर्शन दोगे
रात दिन प्राण पुकारते प्रभु राम को,
कब ऐसी घङी आयेगी,
प्रभु राम के दर्शन कर पाऊंगी
हनुमान जी के ह्दय में राम बैठे हैं

हदय में बैठे राम को निहारती
दिल पुकारता है भगवान राम को

नेत्रो से देख पाऊंगी
भगवान राम को निहारते निहारते घर की सफाई करती
तब दिल कहता यह अयोध्या धाम है
भगवान राम के महल की सफाई कर रही हूं ।
पोचा लगाते लगाते राम लिख देती

हृदय में राम को बिठा लेती
कमल का पुष्प बनाती, पुष्प में राम सजाती,
हनुमान जी के ह्दय में राम बैठे हैं,

हदय में बैठे राम को निहारती
धरती पर पुष्प बना कर,

धरती माता पर राम लिख देती।
प्रत्येक कार्य में राम की खोज कर लेती
हाथ पर राम लिखती।
बच्चों को पढाती किताब पर राम
आत्मा ने पुकारा भगवान राम को हृदय में विराजमान कर ले,
हनुमान जी के ह्दय में राम बैठे हैं हदय में बैठे राम को निहारती
नैनो में राम, दिल की धड़कन में राम,

सांस सांस में राम की झंकार है ,
कान में राम, प्राण मे राम,
ध्वनि में राम, शांति मे राम,

राम प्रेम है ,
राम की पुजा है राम की प्रार्थना है ,
राम अराध्य और अराधना हो,
राम आत्मा राम है।
राम निर्गुण निराकार हैं
सत्य मे है राम । ध्यान में है राम।

भक्त भगवान राम का चिन्तन करते हुए भगवान राम को ऐसे निहारता है

हनुमान जी के ह्दय में राम बैठे हैं

हदय में बैठे राम को निहारती

राम राम राम राम राम
जय श्री राम अनीता गर्ग



How does a devotee look at Lord Ram? This is the truth of my life Ram is sitting in the heart of Hanuman ji

Looking at Ram sitting in her heart Ram bows to Ram Ram Ram Ram then look again look again

Hours would pass just watching.

Ram Ram Ram Ram Ram Ram Ram is sitting in the heart of Hanuman ji.

Looking at Ram sitting in her heart My heart says Ram, when will you give me darshan? Calling out to Lord Rama day and night, When will such a moment come? I will be able to see Lord Ram Ram is sitting in the heart of Hanuman ji

Looking at Ram sitting in her heart Heart calls out to Lord Ram

I will be able to see with my eyes Cleaning the house while looking at Lord Ram Then the heart says this is Ayodhya Dham I am cleaning the palace of Lord Ram. She would write Ram while mopping.

keep Ram in my heart Making a lotus flower, decorating Ram in the flower, Ram is sitting in the heart of Hanuman ji,

Looking at Ram sitting in her heart By making flowers on the earth,

Would have written Ram on Mother Earth. Searching for Ram in every task She would write Ram on her hand. Ram on book reading to children The soul called out to Lord Ram to reside in his heart, Ram is sitting in the heart of Hanuman ji. She is looking at Ram sitting in the heart. Ram in nano, Ram in heartbeat,

There is the chime of Ram in every breath, Ram in ears, Ram in life, Ram in sound, Ram in peace,

Ram is love, Ram’s worship is Ram’s prayer, Ram should be worshiped and adored. Ram is soul Ram. Ram is nirgun and formless Ram is in truth. Ram is in meditation.

The devotee contemplates Lord Rama and looks at Lord Rama like this.

Ram is sitting in the heart of Hanuman ji

Looking at Ram sitting in her heart

Ram Ram Ram Ram Ram Jai Shri Ram Anita Garg

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on pinterest
Share on reddit
Share on vk
Share on tumblr
Share on mix
Share on pocket
Share on telegram
Share on whatsapp
Share on email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *