अध्यात्मवाद (Adhyatmvad)

भगवान सब जानता है

हम भगवान पर पूर्ण विशवस करे। रामजी और कृष्णजी  को हम भगवान कहते है लेकिन पूर्ण रूप से भगवान पर

Read More...
green nature hill

भगवान को राम राम

मै प्रथम राम राम मेरे भगवान तुमको करती हूं। हे परमात्मा तुम मेरी आत्मा के स्वामी हो। हे परम पिता

Read More...

हम सब अजनबी हैं।

इस संसार के रास्ते पर  हम सब अजनबी हैं।घड़ीभर का मिलना है, फिर रास्ते अलग हो जाते हैं। घड़ीभर साथ चल

Read More...

आनन्द

‌आनंद का प्राकट्य तभी होता है।जब साधक अन्तर्मन में परम पिता परमात्मा को बैठा लेता है। परमात्मा में लीन शरीर

Read More...