कर्म ही पुजा है

जर्जर महल

शरीर एक महल के समान है।जो दिखता सुंदर है।किंतु समय आने पर जर्जर हो जाता है।इस महल में हमारे पास

Read More...
images

गुण-अवगुण

एक राजा था जिसका नाम रामधन था उनके जीवन में सभी सुख थे | राज्य का काम काज भी ऐशो

Read More...
hannah reding eTDl2fio8bk unsplash 1

प्राणी के तीन मित्र

आज का प्रभु संकीर्तन। मनुष्य के कर्म ही उसके जीवन बंधन का कारण है।पढिये कथा।एक व्यक्ति था उसके तीन मित्र

Read More...
pasqueflower 3066824 6407304160731808911895

Krmyog me bhakti

परम पिता परमात्मा को प्रणाम है जय श्री राम जय गुरुदेव निष्काम कर्म योग तभी सम्भव है जब कर्म में

Read More...