सुविचार (Suvichar)

स्वस्थ मन और स्वस्थ तन,

स्वस्थ मन और स्वस्थ तन, जगत का है सबसे श्रेष्ठ धन। जितनी इर्षा, जितना गुस्सा, जितनी नेगेटिविटी दिमाग़ में होगी

Read More...

अनमोल विचार

जब तक चलेगी जिंदगी की सांसे,कहीं प्यार कहीं टकराव मिलेगा । कहीं बनेंगे संबंध अंतर्मन से तो,कहीं आत्मीयता का अभाव

Read More...

सुविचार 60

हरि नाम जप ले भाई, क्यों व्यर्थ समय गवाते हो,,,जीवन का हर पल अंतिम है, फ़िर क्यों नही अपनी जिव्हा

Read More...

सुविचार 59

आज का दिव्य संदेश।सदैव स्मरण रखें आप जीवन में सब कुछ पा सकते हैं किंतु जीवन कभी नहीं मिल सकता

Read More...

सुविचार 58

हरे कृष्णा जिसके वाणी गदगद हो जाती है, जिसका चित्त द्रवित हो जाता है, जो बार-बार रोने लगता है, कभी

Read More...

मर्कट वैराग्य

घर में भई खटपट चल पड़े बाबा जी के मठ पर माता पिता पत्नी भाई से झगड़ा हुआ कि बस

Read More...
hd wallpaper nature wallpaper meadow

सुविचार 57

एक सेठ ने सत्संग में एक बार सुना की जिसने जैसे कर्म किये है उसे अपने कर्म भोगने पड़ेंगे यह

Read More...

भीतर एक मंदिर है

संसार के बदलनेकी प्रतीक्षा न करें।अन्यथा प्रतीक्षा ही करते रह जाएंगे।अंधकार में ही जियेंगे औरअंधकार में ही विलीन हो जाएंगे।संसार

Read More...

सुविचार 56

अपने प्यारे प्रेमी भक्तोंको प्रफुल्लित करनेके लिये प्रभु प्रफुल्लित होते हैं । प्रेममें भी यही स्थिति होती है,प्रेमी और प्रेमास्पद

Read More...

सुविचार 55

आध्यात्मिक विचार सारथिमहा अजय संसार रिपु जीति सकइ सो वीर।जाकें अस रथ होइ दृढ़ सुनहु सखा मतिधीर।। कठोपनिषद् के अनुसार

Read More...